Sign up for our weekly newsletter

बतौर राष्ट्रपति बाइडन का प्रथम कार्य होगा पेरिस समझौते पर वापसी

अमेरिकी के नए राष्ट्रपति बाइडन आगामी जनवरी में अपने पदभार ग्रहण करते ही पहले ही घंटे में पेरिस समझौते से जुड़ने के लिए वे संयुक्त राष्ट्र संघ को पत्र लिख लिखेंगे

By Anil Ashwani Sharma

On: Tuesday 10 November 2020
 
Photo : Wikimedia Commons
Photo : Wikimedia Commons Photo : Wikimedia Commons

पेरिस समझौते से अपने को अलग करनेवाला अमेरिका अब अपने को जोड़ेगा। चार साल पहले अमेरिका ने जो भयंकर गलती की है उसे सुधारने के लिए आगामी 20 जनवरी, 2021 को पूरी दुनिया देखेगी कि अमेरिका जलवायु परिवर्तन पर किए गए 174 देशों के बीच समझौते वापसी करेगा। ध्यान रहे कि 2016 में जब डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे तो उनहोंने अपने पहले कदम के रूप में पेरिस समझौते से अपने को अलग होने की घोषणा की थी। तब पूरी दुनिया अचंभित रह गई थी लेकिन उस गलती को अब अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडन सुधारेंगे और अपने आगामी चार सालों में किए जाने वाले प्रमुख कामों की सूची में पहले नंबर पर रखा है। न केवल पहले नंबर रखा है बल्कि बतौर राष्ट्रपति के रूप में किए जाने वाले कार्यों की सूची में इसे सर्वोच्च प्राथमिकता दी है।

इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जब बाइडन आगामी  20, जनवरी 2021 को अमेरिका के 46 वे राष्ट्रपति के रूप में व्हाइट हाउस में पदभार ग्रहण करेंगे तो उनका अपने कार्यालय ओवल में पहले घंटे में जो काम करेंगे उसमें पहले नंबर होगा कि वे संयुक्त राट्रसंघ को पत्र लिखेंगे और बताएंगे कि वे पेरिस समझौते से पुन: जुड़ रहे हैं। इसके बाद उनके कामों में की सूची में उनके अपने देश में फैले कोविड-19 की रोकथाम के लिए एक बोर्ड का गठन करेंगे।

ध्यान रहे कि बाइडन ने अपने चुनावी सभाओं में अमेरिकी मतदाताओं से वायदा किया था कि मेरे कामों में सर्वोच्च प्राथमिकता इन चार मुद्दों को मिलेगी। पहला जलवायु परिवर्तन, कोविड-19, आर्थिक सुधार, नस्लीय समानता। अब वक्त आ गया है कि वे अपने इन वायदों पर अमल करें। यही कारण है कि बाइडन पहले दिन किए जाने वाले कार्यों में दो मुद्दों को शामिल किया है। इसके अलावा बाइडन के अगले कुछ दिनों में उनके कार्यों की सूची में किए जाने वाले कामों की सूची में बेघर होने के खिलाफ नई लड़ाई, शरणार्थियों को फिर से बसाना आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं।

बाइडन और उनकी पार्टी के सदस्य पिछले चार सालों की विध्वंसक नीतियों को व्यवस्थित रूप से मिटाने के लिए उत्सुक हैं। उन्होंने संकेत दिया है कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता महामारी को रोकने के लिए अधिकाधिक प्रयास किए जाएंगे। बाइडन ने यह भी स्पष्ट किया है कि वे पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के पर्यावरण नियमों के एजेंडे को फिर से स्थापित करने की पूरी कोशिश करेंगे, जिसे ट्रप प्रशासन पूरी तरह से खत्म कर दिया था।

बाइडन ने इसके अलावा जनवरी में अमेरिका और मुख्य मुद्दों पर ध्यान देंगे। जैसे अल्पसंख्यक किसानों के बीच जारी भेदभाव को खत्म करने के लिए नई रणनीति की घोषणा। इस संबंध में नेशनल ब्लैक फार्मर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष जॉन वेस्ले बॉयड जूनियर ने कहा कि हमने बाइडन का समर्थन किया है और उम्मीद करते हैं कि वे हमारे हितों का ख्याल रखेंगे। बोयड ने कहा कि वह चाहते हैं कि बाइडन कृषि विभाग के शीर्ष रैंकिंग में विविधता लाएं, जिसमें अल्पसंख्यक किसानों के साथ भेदभाव का एक लंबा इतिहास खत्म हो। बोयड ने कहा कि उन्हें भुगतानों के लिए संघर्ष करना पड़ता है, इस पर बाइडन को विशेष रूप से ध्यान देना होगा।