Sign up for our weekly newsletter

चार चरणों में होंगे उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव, 15 अप्रैल को पहला चरण

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में 58,189 ग्राम पंचायतें हैं और मतदाताओं की संख्या 12.39 करोड़ है

By Ranvijay Singh

On: Friday 26 March 2021
 
File Photo: Samrat Mukharjee
File Photo: Samrat Mukharjee File Photo: Samrat Mukharjee

एक ओर जहां उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। वहीं, दूसरी ओर पंचायत चुनाव की तारीखों का भी ऐलान कर दिया गया है। अप्रैल में चार चरणों में मतदान होंगे और 2 मई को मतगणना होगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने शुक्रवार को प्रेस कॉनफ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। मतदान 15 अप्रैल, 19 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को होंगे। वहीं, 3 अप्रैल से नामांकन की प्रकिया शुरू हो जाएगी। 

यूपी के 75 जिलों में 58,189 ग्राम पंचायतें हैं, जिसमें वार्डों की संख्या 7,32,563 है। वहीं, क्षेत्र पंचायतें 826 हैं, जिसमें 75,855 वार्ड हैं। इसी तरह जिला पंचायतों की संख्या 75 है। 

राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पंचायत चुनाव में मतदाताओं की संख्या 12.39 करोड़ है। इसमें पुरूष मतदाता 53.01% और महिला मतदाता 46.99% हैं। आयोग ने मतदान के लिए 80,762 केंद्र बनाए हैं। 

कोरोना की वजह से बढ़ी मतदान स्‍थलों की संख्‍या

जनवरी मध्य से ही कोरोना के मामलों में गिरावट देखने को मिल रही थी। फरवरी में तो रोजाना नए मामलों की संख्या 100 के आस पास रहने लगी, जिसमें 15 मार्च से बढ़त देखने को मिल रही है. फिलहाल 25 मार्च तक यूपी में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 5049 थी, वहीं इस दिन प्रदेश में 836 नए मामले दर्ज किए गए थे। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 22 मार्च को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक की थी और अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए थे। 

चुनाव अधिकारियों का कहना है कि कोरोना की वजह से एक मतदान स्‍थल पर 800 से ज्‍यादा मतदाताओं को नहीं रखा जा रहा। इसकी वजह से मतदान स्‍थलों की संख्‍या बढ़ गई है। इसे ऐसे समझ सकते हैं कि अगर किसी पंचायत में 900 मतदाता हैं तो पहले उस पंचायत में एक मतदान स्‍थल बनाया जाता था, लेकिन कोरोना की वजह से एक मतदान स्‍थल पर 800 मतदाता से ज्‍यादा नहीं हो सकते। ऐसी स्‍थ‍िति में उस पंचायत में दो मतदान स्‍थल बनाए गए हैं। पंचायत चुनाव में मतदान स्‍थलों की संख्‍या 2,03,050 है।

इसके अलावा इस बार पंचायत चुनाव पूरे जिले में एक साथ हो रहा है। वहीं, पहले एक जिले के अलग-अलग ब्‍लॉक में अलग-अलग चरणों में चुनाव होते थे। साथ ही प‍िछली बार ग्राम पंचायत और क्षेत्र पंचायत के चुनाव अलग-अलग हुए थे, जबकि इस बार सारे चुनाव एक साथ हो रहे हैं। इस बार मतदाता को चार-चार मतपत्र दिए जाएंगे और वो एक ही बार में वोट करेगा।   

किस जिले में कब मतदान
पहला चरण (15 अप्रैल) : सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा, कानपुर नगर, झांसी, महोबा, प्रयागराज, रायबरेली, हरदोई, अयोध्‍या, श्रावस्‍ती, संत कबीर नगर, गोरखपुर, जौनपुर और भदोही।

दूसरा चरण (19 अप्रैल) : मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतमबुद्ध नगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्‍नौज, इटावा, लल‍ितपुर, च‍ित्रकूट, प्रतापगढ़, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, सुलतानपुर, गोण्‍डा, महाराजगंज, वाराणसी और आजमगढ।  

तीसरा चरण (26 अप्रैल) : शामली, मेरठ, मुरादाबाद, पीलीभीत, कासगंज, फिरोजाबाद, औरैया, कानपुर देहात, जालौन, हमीरपुर, फतेहपुर, उन्‍नाव, अमेठी, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्धार्थ नगर, देवरिया, चन्‍दौली, मीरजापुर और बलिया।

चौथा चरण (29 अप्रैल) : बुलंदशहर, हापुड़, सम्‍भल, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, फर्रुखाबाद, बांदा, कौशाम्‍बी, सीतापुर, अम्‍बेडकर नगर, बहराइच, बस्‍ती, कुशीनगर, गाजीपुर, सोनभद्र और मऊ।