Sign up for our weekly newsletter

विस्थापन की पीड़ा

वर्ष 2019 में बाढ़, सूखा, तूफान जैसी आपदाओं के चलते देश में करीब 50,18,000 लोग बेघर हो गए। इस वर्ष भारत में दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा लोग विस्थापित हुए थे, जबकि यदि तापमान के आंकड़ों पर गौर करें तो 1901 के बाद से 2019 सातवां सबसे गर्म साल रहा। वहीं 25 सालों में पहली बार 2019 में इतनी भारी बारिश भी रिकॉर्ड की गई। आइये इस इन्फोग्राफिक की मदद से समझते हैं कि भारत में विस्थापन और क्लाइमेट के बीच का कनेक्शन:

On: Wednesday 27 May 2020
 

पलायन और विस्थापन की पीड़ा कितनी ह्रदय विदारक होती है इसकी कल्पना करना भी मुश्किल है। इसकी दर्द वही समझ सकता है, जो अपने घर से बेघर होता है। भारत में विस्थापन की समस्या कोई नई नहीं है। 1947 में बंटवारे ने जो देश के बीच एक लकीर खींची थी, उसने लाखों लोगों को इधर से उधर अपने घरों को छोड़ कर जाने को मजबूर कर दिया था। तब से लेकर आज तक वजह अलग हो सकती है पर पलायन और विस्थापन की यह प्रक्रिया साल दर साल जारी है।  अधिक पढ़ें...