कोरोनावायरस अपडेट: दिल्ली में 24 घंटे में 91 कोरोना मरीज बढ़े

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में मरकज के मरीजों की वजह से एकदम से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन अभी कोरोना फैलना शुरू नहीं हुआ है

By DTE Staff

On: Friday 03 April 2020
 
सीएम ने कहा कि जितने भी मरीज अस्पताल में हैं, उनमें से दो मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। उनकी हालत नाजुक है।
सीएम ने कहा कि जितने भी मरीज अस्पताल में हैं, उनमें से दो मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। उनकी हालत नाजुक है। सीएम ने कहा कि जितने भी मरीज अस्पताल में हैं, उनमें से दो मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। उनकी हालत नाजुक है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 384 हो चुकी है। 2 अप्रैल तक यह संख्या 293 थी। पिछले 24 घंटे में 91 और कोरोना के मरीज बढ़ गए हैं। एकदम से देखने में यह काफी चिंताजनक स्थिति लगती है। 348 में से 58 मरीज विदेशी यात्रा वाले हैं। ये वे लोग हैं, जिन्होंने पिछले दो महीने में विदेश यात्रा की थी और वहीं से कोरोना लेकर आए थे। इनमें से कई लोग दिल्ली के भी नहीं हैं। फिर भी इनमें कोरोना के लक्षण मिलने पर इन्हें दिल्ली में विभिन्न अस्पतालों में रखकर क्वारंटाइन किया गया है। इनमें से 259 मरीज मरकज वाले हैं। जो विदेश से यात्रा करके आए और अपने परिवार में कोरोना फैला दिया है, ऐसे 38 लोग हैं। एक तरह से दिल्ली के अंदर कोरोना एक-दूसरे से संपर्क करने से मात्र 38 लोगों में फैला है।

दिल्ली में कोरोना की वजह से अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है। 2 अप्रैल को यह आंकड़ा 4 था। आज जिस व्यक्ति की मौत हुई है, वह मरकज से निकाले गए लोगों में शामिल था। सीएम ने कहा कि जितने भी मरीज अस्पताल में हैं, उनमें से दो मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। उनकी हालत नाजुक है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में मरकज के मरीजों की वजह से एकदम से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन अभी कोरोना फैलना शुरू नहीं हुआ है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से गरीबों को परेशानियां हो रही हैं। उन परेशानियों को दूर करने के लिए दिल्ली सरकार ने कई सारे कदम उठाए हैं। जिनके पास राशन कार्ड हैं, ऐसे 71 लाख लोगों को हम 7.5 किलोग्राम मुफ्त में राशन दे रहे हैं। सभी राशन की दुकानों से राशन मिलना शुरू हो गया है। करीब 60 प्रतिशत लोगों को राशन मिल भी चुका है। अगले चार-पांच दिन के अंदर बचे 40 प्रतिशत लोगों को भी राशन दे दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं हैं, जो लोग गरीब हैं, उनको भी दिल्ली सरकार ने राशन देने की योजना बनाई है। अगले दो-तीन दिन में हम राशन देना शुरू कर देंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन की वजह से प्रभावित गरीब लोगों को 1780 केंद्रों पर खाना खिलाने की व्यवस्था की है और 71 लाख राशन कार्ड धारकों में से अब तक करीब 60 प्रतिशत लोगों को राशन दे चुकी है।

दिल्ली सरकार ने लोगों को कोरोना से संबंधित जानकारी और सहायता देने के लिए वट्सएप नंबर 8800007722 जारी किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस नंबर पर हाय या हैल्लो लिखकर भेजने पर कोरोना संबंधित सभी जानकारी मिल जाएगी। साथ ही दिल्ली सरकार ने क्या व्यवस्थाएं की है, इसकी भी जानकारी मिलेगी।  

बच्चों के लिए ऑनलाइन कार्यक्रम

दिल्ली सरकार ने कहा है कि सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में करीब 44 लाख बच्चे पढ़ते हैं। यह सभी बच्चे अपने घरों बैठे हैं। अपने अभिभावकों से तरफ-तरह के सवाल पूछ रहे हैं। अभिभावकों को समझ नहीं आ रहा है कि वे बच्चों को किस तरह समझाएं। लिहाजा कल दोपहर 3 बजे पैरेंटिंग इन द टाइम ऑफ कोरोना विषय पर ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित होगा, जिसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कुछ विशेषज्ञ दिल्ली के स्कूलों में पढ़ने वाले 44 लाख बच्चे और उनके अभिभावक सवाल पूछ सकेंगे।