Sign up for our weekly newsletter

कोविड-19: पहली बार सक्रिय मामलों में 3,734 की कमी, टेस्ट की संख्या बढ़ी

जहां 17 अगस्त में सक्रिय मामले घटकर 676,900 रह गए थे| वहीं 18 अगस्त में भी इसमें 3,734 की कमी देखी गई है, अब सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 673,166 रह गई है

By Lalit Maurya

On: Tuesday 18 August 2020
 

30 जनवरी 2020 को जब देश में पहला मामला सामने आया था तब शायद ही किसी ने सोचा होगा कि यह समस्या इतना विकराल रूप ले लेगी। हर दिन कोरोना के मामले बढ़ते गए और वो अब न वो केवल भारत बल्कि सारी दुनिया के लिए एक बड़ी समस्या बन गए हैं। लेकिन इन सबके बीच देश में पहली बार आशा की एक नई किरण दिखाई दी है जब पिछले दो दिनों से देश में कोरोना के सक्रिय मामलों में कमी देखी गई है। 

यदि सक्रिय मामलों से जुड़े आंकड़ों पर गौर करें तो फरवरी में 3 मामले सक्रिय थे जो 31 मार्च तक बढ़कर 1,238 पर पहुंच गए थे। फिर अप्रैल के अंत में 24,163 और 31 मई तक बढ़कर 89,995 हो गए थे।  वहीं 4 जून को यह 1 लाख के पार चले गए थे। जबकि 30 जून तक सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 215,125 पर पहुंच गया था। जुलाई में भी मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई थी जो 13 जुलाई में 3 लाख से बढ़कर 31 जुलाई तक 545,318 पर पहुंच गई थी। अगस्त की शुरुवात भी कोई अच्छी नहीं रही जहां 10 अगस्त को सक्रिय मरीजों की संख्या 634,945 थी वो 16 अगस्त तक बढ़कर 677,444 पर पहुंच गई थी। पर इसके बाद पिछले दो दिनों में इन सक्रिय मामलों में कमी देखी गई है, जहां 17 अगस्त में यह घटकर 676,900 हो गई थी। 

18 अगस्त में भी इसमें 3,734 की कमी आई है अब सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 673,166 रह गई है, यह स्पष्ट तौर पर सक्रिय मामलों में आ रही कमी को दिखाता है  

महाराष्ट्र, बिहार, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, उत्तरप्रदेश सहित कई अन्य राज्यों में दर्ज की गई है कमी 

यदि राज्यों की बात करें तो सबसे ज्यादा कमी महाराष्ट्र में देखी गई है जहां 17 अगस्त को 158,705 मामले सक्रिय थे वो 18 अगस्त तक घटकर 155,579 रह गए थे जिसका मतलब है कि उनमें 3,126 की कमी आई थी। इसी तरह बिहार में सक्रिय मामलों में 1,672 की कमी दर्ज की गई है जबकि आंध्रप्रदेश में 1,168 मामले कम हुए हैं। कर्नाटक में 869, उत्तरप्रदेश 644, तेलंगाना 396 और हरियाणा में सक्रिय मामलों में 134 की कमी आई है। हालांकि इसके विपरीत असम में 1,265, ओडिशा में 731, पंजाब में 690, केरल में 581 सहित कई अन्य राज्यों में सक्रिय मामलों में वृद्धि देखी गई है। 

इसके साथ ही देश में यदि मामलों की जांच की बात करें तो उसमें भी दिन प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। वर्ल्डोमीटर.इन्फो द्वारा जारी आंकड़ों को देखें तो देश में अब तक 30,941,264 टैस्ट किये जा चुके हैं। सरल शब्दों में प्रति दस लाख की आबादी पर 22,393 लोगों की जांच की जा रही है।

हालांकि इनके बारे में पूरी तरह कहना अभी जल्दबाजी होगा पर आंकड़ों का जो ट्रेंड दिखाता है, वो स्पष्ट तौर पर इनमें आ रही कमी की ओर इशारा करता है।