News Updates
Popular Articles
Videos
  • Why is Antimicrobial Resistance the biggest threat to humanity?

  • Déjà vu: Will Chennai see a repeat of 2015 deluge?

अब आपकी बैटरी न फूलेगी न ही फटेगी, वैज्ञानिकों ने बनाया नया पदार्थ बैटरी में होगा उपयोग

भारतीय वैज्ञानिकों ने एक ऐसा मिश्र पदार्थ बनाया है जो लिथियम आयन बैटरी के गर्म होने, रिसाव होने यहां तक की आग लगने की घटनाओं पर लगाम लगाने में ...

ओपन-सोर्स स्मार्टफोन एप्लिकेशन से कर सकेंगे नदियों, नालों की निगरानी

ड्राईरिवर ऐप नदियों, नालों और इनमें बहने वाले पानी और सूखे की स्थितियों का दस्तावेजीकरण करने में अहम भूमिका निभा सकता है।

क्यों है भारत में लद्दाख का हान्ले खगोलीय अध्ययन के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थान

शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला कि लद्दाख में हान्ले, खगोलीय अध्ययन करने के लिए दुनिया भर के कई जगहों से अच्छी है, वहां वर्ष में 270 रातें बहुत साफ होती ...

वैज्ञानिकों ने बनाया एआई आधारित फेस मास्क, प्रदूषण के हिसाब से खुद को कर सकता है एडजस्ट

एआई सॉफ्टवेयर की मदद से इस फेस मास्क में लगा रेस्पिरेटर, लगाने वाले की सांस के पैटर्न और प्रदूषण की मात्रा के आधार पर अपने आप को ढाल सकता ...

भारतीय वैज्ञानिकों ने बनाया अधिक क्षमता वाला सोलर डीसी कुकिंग सिस्टम, कार्बन उत्सर्जन पर भी लगेगी रोक

सोलर डीसी कुकिंग सिस्टम की क्षमता पारंपरिक सोलर आधारित कुकिंग सिस्टम से 20 से 25 फीसदी अधिक है और यह उससे ज्यादा किफायती भी है।

नई सोच: अब कार से निकलने वाले दूषित जल और कार्बन डाइऑक्साइड से उगेंगी फसलें

एक औसत कार हर वर्ष करीब 4.6 मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जित करती है। वहीं ईंधन के जलने से हर वर्ष करीब 21,000 लीटर पानी बनता है, जो बेकार ...

भारत में पहली बार विकसित किया गया बेहतर पारदर्शी सिरेमिक, थर्मल इमेजिंग और सुरक्षा में होगा उपयोग

पारदर्शी सिरेमिक का उपयोग कठिन परिस्थितियों में काम करने वाले लोगों, सैनिकों के व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों जिसमें थर्मल इमेजिंग, हेलमेट, फेस शील्ड, चश्मे आदि में किया जा सकता है।

वैज्ञानिकों ने बनाया रैपिड सेंसर, घाव में संक्रमण का लगा सकता है तेजी से पता

बहुत ही कम लागत वाले इन स्क्रीन प्रिंटेड कार्बन सेंसरों की मदद से घावों में पाए जाने वाले बैक्टीरिया का बड़ी तेजी से पता लगाया जा सकता है