Sign up for our weekly newsletter

मौसम अपडेट:आज दक्षिण भारत के अलग-अलग भागों में होगी भारी बारिश, राजस्थान में चलेगी धूल भरी आंधी

पश्चिमी विक्षोभ के चलते 15 से 17 अप्रैल को पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में बिजली गिरने, गरज के साथ भारी बारिश और 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने के आसार हैं।

By Dayanidhi

On: Thursday 15 April 2021
 
weather forecast
Photo : Wikimedia Commons Photo : Wikimedia Commons

मौसम विभाग के अनुसार अगले 3 दिनों के दौरान भारत के दक्षिण-पश्चिमी प्रायद्वीपीय में बिजली गिरने, गरज के साथ भारी बारिश होने और 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने का अनुमान है। अगले 3 दिनों के दौरान केरल और माहे, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में मूसलाधार बारिश का अनुमान है। अगले 24 घंटों के दौरान तटीय और दक्षिण कर्नाटक के आंतरिक हिस्सों में भारी बारिश होने के आसार हैं।

मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा और कोंकण और गोवा में अगले 24 घंटों के दौरान बिजली गिरने, भारी बारिश होने और 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज़ हवाएं चलने का अनुमान है, यही हाल 15 से 18 अप्रैल के दौरान विदर्भ और छत्तीसगढ़ का रहने वाला है।

पश्चिमी विक्षोभ के चलते 15 से 17 अप्रैल को पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में बिजली गिरने, गरज के साथ भारी बारिश और 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने के आसार हैं। 15 और 16 अप्रैल को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में अलग-थलग जगहों पर ओले पड़ने की आशंका है, जबकि हिमाचल प्रदेश में 16 अप्रैल तथा उत्तराखंड में 16 और 17 अप्रैल को ओलावृष्टि का अनुमान है।

16 और 17 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में भी मूसलाधार बारिश का अनुमान है।

15 से 17 अप्रैल के दौरान भारत के मैदानी इलाकों में गरज के साथ बौछारें पड़ने, 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने का अनुमान है। 16 अप्रैल को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर ओले पड़ने की आशंका है।

15 और 16 अप्रैल को पश्चिम राजस्थान में और 16 अप्रैल को पूर्वी राजस्थान में अलग-थलग जगहों पर गरज के छीटे पड़ने और धूल भरी आंधी आने का अनुमान है।

देश के अधिकांश हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बौछारें पड़ने की वजह से अगले 3-4 दिनों के दौरान अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान में कोई ज्यादा बदलाव होने का अनुमान नहीं है, उत्तर पश्चिमी भारत के अधिकांश हिस्सों को छोड़कर जहां अधिकतम तापमान 24 घंटों के बाद 2-4 डिग्री सेल्सियस तक कम होने की संभावना है।

कल कहां हुई बारिश और कहां पड़ी बौछारें

बीते दिन 8:30 बजे से 5:30 बजे के दौरान जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुज़फ्फराबाद, लक्षद्वीप, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल, केरल और माहे और अंडमान और निकोबार द्वीपों पर कुछ स्थानों पर और हिमाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, ओडिशा, पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, मराठावाड़ा, मध्य महाराष्ट्र, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, रायलसीमा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ी।

कहां कितनी हुई बारिश

कल 8:30 बजे से 5:30 बजे के दौरान पुनालुर में 4 सेमी, अमनिदिवि में 3सेमी, पहलगांव और कोरापुट में 2 सेमी, अंगुल, कोचीन, अलापुझा और नानकोव्री में 1 सेमी वर्षा रिकॉर्ड की गई।

कहां महसूस की गई लू (हीट वेव)

कल सौराष्ट्र, कच्छ और हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों में लू (हीट वेव) महसूस की गई।

देश में कैसा रहेगा आज का मौसम

Source : IMD

15 अप्रैल यानि आज जाम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने, गरज के साथ बौछारें पड़ने, ओलावृष्टि और 30-40 किमी प्रति घंटे तक की गति के साथ तेज हवाएं चलने का अनुमान है। असम और मेघालय में अलग-अलग जगहों पर बिजली गिरने और 40-50 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने के आसार हैं।

हिमाचल प्रदेश, पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़, झारखंड, पश्चिम बंगाल में गंगा के तटीय इलाकों, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल, केरल और इसके अलग-अलग भागों के साथ माहे, पूर्व मध्य प्रदेश, विदर्भ, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, रायलसीमा, अरुणाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, कर्नाटक और लक्षद्वीप में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने, बौछारें पड़ने के साथ 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।

आज कहां हो सकती है भारी बारिश

आज तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल और माहे, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल पर अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने का अनुमान है।

धूल भरी आंधी

पश्चिम राजस्थान के अलग-अलग स्थानों पर 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी आने की आशंका है।