मौसम अपडेट: कहां चलेगी लू, कहां होगी भारी बारिश और ओलावृष्टि

आज दक्षिण हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों में लू (हीट वेव) चलने के बहुत अधिक आसार हैं।

By Dayanidhi

On: Wednesday 14 April 2021
 
Weather update: Where there will be heat waves
Photo : wikimedia commons Photo : wikimedia commons

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, निचले ट्रोपोस्फेरिक स्तरों पर हवा के रुक-रुक कर चलने से अगले 4 दिनों के दौरान दक्षिण-पश्चिम भारत में बिजली गिरने, गरज के साथ भारी बारिश होने और 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।

अगले 4 दिनों के दौरान केरल और माहे में भारी वर्षा की संभावना है, अगले 3 दिनों के दौरान तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में तथा अगले 2 दिनों के दौरान तटीय और दक्षिण कर्नाटक के आंतरिक हिस्सों में, 14 अप्रैल को तेलंगाना में मूसलाधार बारिश होने का अनुमान है।

मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, कोंकण और गोवा में अगले 24 घंटों के दौरान और विदर्भ और छत्तीसगढ़ में 14 से 16 अप्रैल को बिजली गिरने, गरज के साथ बारिश होने और 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने के आसार हैं। 14 और 15 अप्रैल को तेलंगाना के अलग-अलग जगहों पर ओलावृष्टि तथा 14 अप्रैल को विदर्भ और छत्तीसगढ़ में ओलावृष्टि की आशंका है।

एक नए सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ की वजह से 14 से 17 और 15 से 17 अप्रैल के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के मैदानी इलाकों तथा इसके आसपास के मौसम के प्रभावित होने की आशंका है। 14 से 17 अप्रैल के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों में बिजली गिरने, गरज के साथ भारी बारिश होने और 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।    

16 से 17 अप्रैल के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के आसपास के मैदानी इलाकों में गरज के साथ बौछारें पड़ने तथा 30-40 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।

16 और 17 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में भी भारी वर्षा की संभावना है। 15 ओर 16 अप्रैल को पश्चिम राजस्थान तथा 16 और 17 अप्रैल को पूर्वी राजस्थान में गरज के साथ बौछारें पड़ने तथा धूल भरी आंधी चलने की आशंका है।

देश के अधिकांश हिस्सों में अगले 4-5 दिनों के दौरान गरज के बारिश होगी, गुजरात को छोड़कर देश के बाकी हिस्सों में अधिकतम तापमान में कोई ज्यादा बदलाव का अनुमान नहीं है, गुजरात में अगले 2-3 दिनों के दौरान अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है।

बीते कल 8:30 बजे से 5:30 बजे के दौरान अरुणाचल प्रदेश में कई स्थानों पर, केरल और माहे, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल, लक्षद्वीप, ओडिशा, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र, असम, मेघालय, कोंकण और गोवा में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ी।

कल 8:30 बजे से 5:30 बजे के दौरान कोट्टीम में 3 सेमी, वेलपराई में 2 सेमी, शोलापुर में 1 सेमी वर्षा रिकॉर्ड की गई।

कल मध्य महाराष्ट्र, उत्तर पूर्व कर्नाटक, केरल और माहे के कुछ स्थानों पर, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओडिशा, गुजरात में अलग-थलग स्थानों तथा मराठवाड़ा, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में गरज के साथ बारिश हुई।

कल सौराष्ट्र और कच्छ के अलग-अलग हिस्सों में लू (हीट वेव) महसूस की गई।

Source : IMD

14 अप्रैल यानी आज तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और विदर्भ के अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने, गरज के साथ बारिश तथा ओलावृष्टि होने और 40-50 किमी प्रति घंटे की गति तेज हवाएं चलने का अनुमान है। असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने 40-50 किमी प्रति घंटे की दर से तेज हवाएं चलने के आसार हैं।

आज ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, दक्षिण कर्नाटक के आंतरिक हिस्सों, तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों के साथ जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल में गंगा के तटीय इलाकों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, कोंकण और गोवा, रायलसीमा, तटीय और उत्तर आंतरिक कर्नाटक और लक्षद्वीप में बिजली गिरने और 30- 40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चलने का अनुमान है।

आज ओडिशा, तेलंगाना, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल और माहे, तामिलाडु, पुदुचेरी और कराईकल के अलग-अलग हिस्सों में भारी वर्षा का अनुमान है।

दक्षिण हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों में लू (हीट वेव) चलने के बहुत अधिक आसार हैं।