क्यों फटते हैं बादल, क्या इसका पूर्वानुमान लगाया जा सकता है?

बादल फटना यानी रेनस्टॉर्म एक विशेष अवधि में यह किसी विशेष क्षेत्र में होने वाली भयंकर बारिश की घटना है।

By Dayanidhi

On: Wednesday 16 June 2021
 
बादल फटने की घटना क्या है, क्या इसका पूर्वानुमान लगाया जा सकता है?
Photo : Wikimedia Commons Photo : Wikimedia Commons

आप अक्सर बादल फटने की घटनाओं के बारे में सुनते होंगे, आइए विस्तार से जानते हैं कि बादल फटना होता क्या है

क्या मानसून के मौसम में बिजली गिरती है?
बिजली मुख्य रूप से संवहनी बादलों से जुड़ी होती है। मानसूनी बादल मुख्यतः समतापरूपी होते हैं। इसलिए, मानसून के मौसम के सक्रिय चरण के दौरान बिजली आमतौर पर नहीं गिरती है। हालांकि, मानसून के थम जाने के दौरान की गतिविधि से संवहनी बादलों का निर्माण हो सकता है और इसलिए बिजली चमक या गिर सकती है

Photo : Wikimedia Commons

बारिश का तूफ़ान या रेनस्टॉर्म क्या है?
रेनस्टॉर्म एक तूफान है जिसमें भयंकर वर्षा होती है। यह एक विशेष अवधि में यह किसी विशेष क्षेत्र में अनुभव की जाने वाली भयंकर वर्षा की घटना है। विभिन्न स्थानीय आधार पर मानसून, बादलों का गरजना, चक्रवाती तूफान आदि के अलग-अलग मौसम की प्रणालियों के साथ जुड़ाव होता है। किसी भी लंबी अवधि के बारिश के तूफान में आमतौर पर तेज बारिश होती है, कम तीव्रता वाली बारिश की अवधी में अक्सर ऐसा नहीं होता है। कई बार यह देखा गया है कि बारिश के तूफान की वजह से भूस्खलन और बाढ़ आ जाती है।

मानसून की सक्रिय और कमजोर स्थिति घोषित करने के लिए किन मानदंडों का इस्तेमाल किया जाता है?
सक्रिय मानसून की स्थिति घोषित करने के लिए निम्नलिखित मानदंड हैं
i) जब वर्षा सामान्य से डेढ़ से चार गुना अधिक होती है।
ii) कम से कम दो जगहों में वर्षा 5 सेमी होनी चाहिए, यदि वह उप-भाग के पश्चिमी तट के साथ है तो वहां 3 सेमी होनी चाहिए
iii) किसी उप-भाग में भारी बारिश होनी चाहिए (भूमि क्षेत्र के ऊपर)
iv) हवा की गति 23 से 32 समुद्री मील (समुद्र के ऊपर) के बीच है तो मौसम विज्ञान उप-भाग पर कमजोर मानसून की स्थिति घोषित करने के लिए इस मानदंड का उपयोग करता है
i) सामान्य से आधे से कम वर्षा (भूमि क्षेत्र में) हवा की गति 12 समुद्री मील (समुद्र के ऊपर) हो

Photo : Wikimedia Commons

बादल फटना क्या है?
यदि किसी जगह पर एक घंटे में 10 सेमी वर्षा होती है, तो वर्षा होने की इस घटना को बादल फटना कहा जाता है।

क्या बादल फटने की भविष्यवाणी की जा सकती है?
अंतरिक्ष और समय में बहुत छोटे पैमाने के कारण बादल फटने की भविष्यवाणी करना बहुत मुश्किल है। बादल फटने की निगरानी करने के लिए, हमें बादल फटने की आशंका वाले क्षेत्रों पर घने रडार नेटवर्क की आवश्यकता होती है या बादल फटने के पैमाने को हल करने के लिए एक बहुत उच्च रिज़ॉल्यूशन वाले मौसम पूर्वानुमान मॉडल की आवश्यकता होती है।

बादल फटने की घटना मुख्य रूप से किस क्षेत्र में होती है?
बादल फटने की घटना मैदानी इलाकों में होती है, हालांकि, पर्वतीय क्षेत्रों में ऑरोग्राफी के कारण बादल फटने की आशंका अधिक होती है।


अगले अंक में : मानसून के मौसम में कृषि के लिए विशेष पूर्वानुमान के तहत किस तरह की जानकारी होती है?

इसके पहले डाउन टू अर्थ की ओर से मानसून से संबंधित विभिन्न जानकारियां प्रकाशित की जा चुकी हैं। इस बारे में जानने के लिए पढ़ें-  

मानसून के बारे में क्या जानते हैं आप?

मानसून के महीनों के दौरान चक्रवात क्यों नहीं आते हैं? आइए जानते हैं इसके बारे में

जानिए, मानसून पर किस तरह असर डालता है जलवायु परिवर्तन

क्या आप जानते हैं बाढ़ और सूखे की परिभाषा?

मानसून का छोटे से मध्यम श्रेणी का पूर्वानुमान क्या होता है?

मैडेन जूलियन ऑसीलेशन क्या है? यह वर्षा को कैसे प्रभावित करता है?