Sign up for our weekly newsletter

वैज्ञानिकों ने खोजा एक छोटे पक्षी के सिर के समान दिखने वाला जीव

यह जीवाश्म रिकॉर्ड में सबसे छोटे पहचाने गए मेसोजोइक डायनासोर की तरह दिखता है

By Dayanidhi

On: Thursday 12 March 2020
 

एक छोटे पक्षी के सिर के समान दिखने वाले जीव की खोज हुई है, इससे ओकुलुदेंटविस खूंग्राए नामक एक नई प्रजाति का पता चला है। यह जीवाश्म रिकॉर्ड में सबसे छोटे पहचाने गए मेसोजोइक डायनासोर की तरह दिखता है।

शोधकर्ताओं की एक टीम ने बर्मीज एम्बर में एक खोपड़ी के नमूने की खोज की है। यह नमूना सबसे छोटे जीवित पक्षी हमिंग बर्ड के आकार के बराबर है। यह शोध नेचर नामक पत्रिका में प्रकाशित हुई है। 

खोजकर्ताओं की टीम की अगुआई कर रहे लार्स शमित्ज ने कहा कि इसकी अनूठी शारीरिक विशेषताएं सबसे छोटी और सबसे प्राचीन पक्षियों में से एक को दिखाती हैं।

खोजकर्ताओं की टीम ने उच्च-रिज़ॉल्यूशन सिंक्रोट्रॉन स्कैन के साथ नमूने की विशेषताओं का अध्ययन किया, जिसका उद्देश्य यह जानना था कि उस युग के अन्य पक्षी-जैसे डायनासोर के नमूनों से ओकुलुदेंटविस खांग्राए का सिर कैसे अलग है।

उन्होंने पाया कि आंखों की हड्डियों के आकार के आधार पर कहा जा सकता है कि यह दिन में विचरण करने वाला जीव था, लेकिन इसकी आंखों में आजकल की छिपकलियों की आखों की तरह समानताएं थी। खोपड़ी विभिन्न हड्डी तत्वों के साथ-साथ दांतों की उपस्थिति के बीच मेल खाती एक अनूठा पैटर्न भी दिखाती है।

शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला कि असामान्य रूप से इस तरह के बेजोड़ छोटे आकार के नमूने को पहले कभी नहीं देखा गया। आज तक जीवाश्म रिकॉर्ड में इस तरह के नमूने दर्ज नहीं हुए है। यह खोज विकास प्रक्रिया में शुरुआती एवियन शरीर के आकारों में से सबसे छोटा आकार है, यह पक्षियों के विकास को समझने में मदद करता है। नमूने के संरक्षण से कशेरुकी जीव के शरीर के आकार की न्यूनतम सीमाओं को जानने, इनकी क्षमता के बारे में और अधिक पता लगाया जा सकता है।

शमित्ज ने कहा, जीवित पक्षियों के किसी अन्य समूह में, वयस्कों में, समान रूप से छोटे क्रैनिया जैसी प्रजातियां नहीं हैं। इस खोज से हमें पता चलता है कि डायनासोर के दौर में छोटे कशेरुक किस तरह दिखते थे।