साउथ कोरिया की तरह दिल्ली में भी होंगे ज्यादा से ज्यादा कोरोना टेस्ट

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि साउथ कोरिया की तरह दिल्ली में भी कोरोना टेस्ट बढ़ाए जाएंगे, ताकि संक्रमण को जल्द से जल्द काबू किया जा सके

By DTE Staff

On: Monday 06 April 2020
 
दिल्ली कनॉट प्लेस में लॉकडाउन के दौरान अपनी ड्यूटी देता दिल्ली पुलिस कर्मी। फोटो: विकास चौधरी
दिल्ली कनॉट प्लेस में लॉकडाउन के दौरान अपनी ड्यूटी देता दिल्ली पुलिस कर्मी। फोटो: विकास चौधरी दिल्ली कनॉट प्लेस में लॉकडाउन के दौरान अपनी ड्यूटी देता दिल्ली पुलिस कर्मी। फोटो: विकास चौधरी

दिल्ली सरकार ने कोरोनावायरस संक्रमण की जांच तेज करने का निर्णय लिया है। इसके लिए दिल्ली सरकार ने 1 लाख टेस्टिंग किट का ऑर्डर दिया है, जो 10 अप्रैल तक मिल जाएगी। 

6 अप्रैल को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब हमें टेस्टिंग किट मिल रही हैं। हमने जांच काफी बढ़ा दी है। हम चाहते हैं कि जो भी टेस्ट कराना चाहता है, उसकी जांच हो। ताकि कोरोना के मरीजों की पहचान की जा सके और उनका इलाज किया जा सके। साथ ही, उन्हें क्वारेंटाइन या आइसोलेट किया जा सके, ताकि वे आगे यह बीमारी न फैलायें। जितनी ज्यादा हम जांच करेंगे, उतनी तेजी से ही हम कोरोना को रोकने में कामयाब होंगे। दूसरे देशों में भी यही तकनीक अपनाई जा रही है। साउथ कोरिया अभी तक सबसे ज्यादा सफल माना जाता है। वहां पर भी यही तकनीक अपना कर ज्यादा से ज्यादा जांच की गई थी। हम अब दिल्ली के अंदर भी यही करने वाले हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर हम अपने आंकड़े को देखें तो 25 अप्रैल के आसपास हम प्रतिदिन 100 से 125 लोगों की जांच कर रहे थे। उसके बाद एक अप्रैल के बाद से हम 500 के करीब प्रतिदिन जांच कर रहे हैं और अब हम 500 से 1 हजार लोगों की जांच प्रतिदिन कर सकेंगे और इसे आने वाले समय में बढ़ाते जाएंगे। दिल्ली सरकार ने 1 लाख टेस्टिंग किट के आॅर्डर दे दिए हैं। शुक्रवार तक एक लाख टेस्टिंग किट आ जाएंगी और हम बहुत बड़े स्तर पर जांच करने में समक्ष हो जाएंगे।

बिना राशन कार्ड वालों को मंगलवार से मिलेगा राशन

केजरीवाल ने कहा कि 71 लाख लोग कार्ड धारक हैं, उन सभी लोगों को 7.5 किलो राशन मुफ्त दे रहे हैं। लेकिन ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है। वे लोग भी बहुत गरीब हैं। उनको भी अभी खाने की दिक्कत हो रही है। उन लोगों को भी कल (7 अप्रैल) से राशन मिलना शुरू हो जाएगा। 7 अप्रैल को 421 स्कूलों पर उन्हें राशन बंटना शुरू हो जाएगा। 10 लाख लोगों को 5-5 किलो राशन दिया जाएगा। प्रत्येक व्यक्ति को 4 किलो गेहूं और एक किलो चावल मुफ्त दिया जाएगा। 

केंद्र ने 27 हजार पीपीई किट दिए

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं पिछले कई दिनों से कह रहा था कि हमारे पास पीपीई किट्स की कमी है। केंद्र सरकार की हमारे पास एक चिट्ठी आई है। जिसमें उन्होंने कहा है कि केंद्र ने दिल्ली के लिए 27 हजार पीपीई किट्स आवंटित किया है। इसके लिए हम केंद्र सरकार का शुक्रिया करते हैं। हमें उम्मीद है कि कल या परसों तक पीपीई किट्स मिल जाएगी। यह हमारे डाॅक्टरों की सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण कदम होगा। केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और दिल्ली के सभी लोग मिल कर कोरोना से लड़ रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि हम इस लड़ाई को जरूरत जीत लेंगे।