News Updates
Popular Articles
Videos
  • Why is Antimicrobial Resistance the biggest threat to humanity?

  • Déjà vu: Will Chennai see a repeat of 2015 deluge?

एनएफएचएस-5 : भारत में अब भी पुरुषों से ज्यादा नहीं हैं महिलाएं , जानिए क्यों?

लगातार पिछले तीन दशकों में लिंगानुपात में सुधार हुआ है। इसलिए एनएफएचएस-5 के आंकड़ों में महिलाओं की संख्या बढ़कर दिखाई दे सकती है। 

महिलाओं और बच्चों में बढ़ रहा एनीमिया, असम की हालत सबसे खराब : एनएफएचएस-5

एनीमिया का दूसरा सबसे ज्यादा उभार 15-19 साल की युवा महिलाओं में दर्ज हुआ, जहां 2019 से 2021 के बीच इससे पीड़ित महिलाओं का आंकड़ा 59.1 फीसदी पहुंचा, जबकि ...

कड़वी सच्चाई: बाल विवाह के चलते हर रोज चढ़ रही है 60 से ज्यादा बच्चियों की बलि

बचपन में ही विवाह हो जाने के कारण हर साल करीब 22,000 से ज्यादा बच्चियों की जान जा रही है, जिसका मतलब है कि बाल विवाह हर रोज 60 ...

हर 40 सेकंड में एक व्यक्ति करता है आत्महत्या

दुनियाभर में हर 100 में से एक व्यक्ति की जान खुदकुशी करने के कारण गई थी, जो इसे मृत्यु के लिए जिम्मेवार 17वां सबसे बड़ा कारण बनाता है

महिलाओं में 21 फीसदी तक हृदय रोग बढ़ाने के लिए जिम्मेवार है मानसिक तनाव: अध्ययन

अध्ययन में 1991 से 2015 तक प्रतिभागियों पर नजर रखी गई, ताकि महिलाओं में कैंसर, हृदय रोग और ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने के बेहतर तरीकों का पता लगाया जा सके।

कैसे काम करते हैं पुरुष और महिला के दिमाग

क्या ये दिमाग अपने जैविक स्वभाव के विरुद्ध जा रहे हैं?

स्तन कैंसर से होने वाली मौतों को कम करने के लिए शुरू हुआ अभियान

इस अभियान का फोकस कम आय वाले देशों में 2040 तक वैश्विक स्तर पर स्तन कैंसर से होने वाली 25 लाख मौतों को कम करना है

आठ मार्च, महिला दिवस और उसके बाद... संघर्ष अभी जारी है

कोविड काल में सरकार श्रम क़ानूनों मे बदलाव करते हुए जो तीन नए कानून लायी है और दावा कर रही है ही इससे महिलाओं को बराबरी मिलेगी, महज एक ...