News Updates
Popular Articles
Videos
  • Global Risks Report 2022: What does it mean for the environment

  • The cleanest cities of India: Kakinada uses facial recognition, GPS, RFID to stay clean

जीएम फूड

भारत में जीएम फूड पर रोक के बजाए, प्रवेश का रास्ता आसान करेगा एफएसएसएआई का मसौदा

 राज्यों से बिना कोई परामर्श इस मसौदे में जीएम फूड के लिए निर्णय लिया जा रहा है, जबकि इसके लिए राज्यों से और आम लोगो ंसे पहले राय-मशविरा होना चाहिए। 

रेसिपी

आहार संस्कृति: चलेगी चक्की, बनेगी सेहत

घर में तैयार किए गए आटे, दाल और दलिए से स्वास्थ्य और स्वाद दोनों मिलते हैं। इनके साइड प्रोडक्ट भी प्रयोग में आ जाते ...

रेसिपी

आहार संस्कृति: आइए, जानते हैं कैसे बनती है धुरचुक चाय

अंतरिक्ष यात्रियों से लेकर आम लोग तक ठंडे इलाकों में पाए जाने वाले धुरचुक के गुणों से वाकिफ हैं, आप भी जानिए 

रेसिपी

आहार संस्कृति: पोषण से भरा है तिन्नी चावल, ऐसे बनाएं खिचड़ी या रसिया

बंजर जमीन पर भी उग जाने वाला यह चावल अंधाधुंध अनुवांशिक छेड़छाड़ से अब तक अछूता है

रेसिपी

आहार संस्कृति: कैंसर जैसी बीमारी में कारगर है कुतरूम

जूट का विकल्प होने के साथ-साथ कुतरुम कैंसर के इलाज में भी कारगर है। इससे बने व्यंजन पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, ऐसे ...

भारत सहित एशिया-प्रशांत क्षेत्र में रहने वाले 180 करोड़ लोगों की पहुंच से बाहर है पोषक आहार

कोविड-19 के बाद से इस क्षेत्र में भुखमरी का शिकार लोगों की संख्या में 5.4 करोड़ का इजाफा हुआ है, जिससे इस समस्या से जूझ रहे लोगों का आंकड़ा बढ़कर 37.5 करोड़ पर पहुंच गया है

कैसा विकास: अपने बच्चों के लिए पोषक आहार खरीदने में असमर्थ है दुनिया की 42 फीसदी आबादी

दुनिया में 300 करोड़ से ज्यादा लोग अपने और अपने परिवार के लिए ऐसा आहार खरीदने के काबिल नहीं हैं जो उन्हें और उनके बच्चों को पर्याप्त पोषण दे सकता है

साधनों की कमी के चलते भुखमरी की कगार पर हैं 4.5 करोड़ लोग: डब्ल्यूएफपी

भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके इन लोगों की संख्या वर्ष की शुरुवात में करीब 4.2 करोड़ थी, जबकि 2019 में यह आंकड़ा 2.9 करोड़ था

आहार संस्कृति: गुलाबी ठंड में सजती थाली

औषधीय और पौष्टिक गुणों से भरपूर पारिजात के फूल व पत्तियों के लाजवाब व्यंजन बनते हैं

संयुक्त राष्ट्र खाद्य प्रणाली शिखर सम्मेलन से उठते सवाल

विफल वैश्विक खाद्य प्रणालियों को बदलने की संभावना खुशी का कारण होनी चाहिए, लेकिन संयुक्त राष्ट्र शिखर सम्मेलन मानो सत्ता हथियाने के लिए हुआ है

विश्लेषण: खाद्य प्रणाली में सुधार से किसे पहुंचेगा फायदा?

23 सितंबर को आयोजित यूएन फूड सिस्टम्स समिट का उद्देश्य फंडिंग में कटौती किए बिना, इस सेक्टर से होने वाले भारी उत्सर्जन को कम करने के लिए खाद्य उत्पादन प्रणाली को बदलने पर आम सहमति बनाना था। लेकिन ऐसा ...

116 देशों के ग्लोबल हंगर इंडेक्स में 101वें पायदान पर है भारत

हाल ही में 116 देशों के लिए जारी ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत को 101वें पायदान पर रखा गया है, जो स्पष्ट तौर पर दर्शाता है कि देश में भुखमरी की स्थिति कितनी गंभीर है