Sign up for our weekly newsletter

News Updates
Popular Articles
Videos
  • Trade in tatters, Dharavi’s potter community struggles to stay afloat

  • The Ajrakh jacket (CoVest), the first COVID-19 smart clothing made in India?

संक्रामक रोग

कोविड-19: क्या बीसीजी का टीका इस महामारी का तोड़ है

जहां टीबी से बचाव के लिए बच्चों का नियमित रूप से टीकाकरण नहीं किया गया, वहां कोविड-19 के मामले अधिक हैं

संक्रामक रोग

क्या है यह कोरोनावायरस? कितना खतरनाक है यह, इससे बचने के उपाय क्या हैं?

कोरोनावायरस से घबराए नहीं, बल्कि उसके बारे में सब कुछ जानें और बचाव करें

संक्रामक रोग

कोविड-19 को शरीर में फैलने से रोक सकता है प्रोटीन 'पेप्टाइड'

एमआईटी के वैज्ञानिकों ने एक ऐसे पेप्टाइड को विकसित किया है, जो कोरोनावायरस को शरीर में फैलने से रोक सकता है

संक्रामक रोग

कोरोनावायरस संक्रमण: तीसरे चरण में प्रवेश कर चुका है भारत?

सांस संबंधित बीमारों में 10 प्रतिशत ऐसे लोग हैं, जिन्होंने पिछले दिनों कोई विदेश यात्रा नहीं की, फिर भी उनमें कोविड-19 टेस्ट पॉजीटिव पाया ...

कोरोना के दौर में घुमंतू समुदाय

मार्च और अप्रैल में राजस्थान के घुमंतू चारे और संसाधन की तलाश में प्रदेश की सीमा को पार करते हैं लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो पाया 

तापमान से हमारा शरीर कैसे प्रतिक्रिया करता है?

हर व्यक्ति को शरीर के बढ़ते-घटते तापमान की जानकारी होना बेहद जरूरी होता है। आइए जानते हैं कि शरीर का हमें कैसे प्रभावित करता है

कोरोना मरीजों के सूंघने की क्षमता क्यों हो जाती है खत्म

निष्कर्ष बताते हैं कि कोविड-19 रोगियों में सूंघने की क्षमता के लिए विभिन्न प्रकार की नोनूरोनल कोशिकाओं का संक्रमण जिम्मेदार हो सकता है

वायरस विज्ञानियों ने की कोविड-19 के उपचार की पहचान

अध्ययन में कहा गया है 3सी जैसे प्रोटीज एंजाइम अवरोधक (इनहिबिटर) विट्रो में कोरोनावायरस को बढ़ने से रोक देते हैं

कोरोना से “रिकवरी” का मतलब पूरी तरह ठीक होना नहीं

संक्रमित की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उसे रिकवर मान लिया जाता है और सरकार भी इसका श्रेय लेकर अपनी पीठ थपथपा लेती है। लेकिन क्या रिकवर हुए मरीज वाकई स्वस्थ हैं?

कोरोना से ठीक होने वालों में हृदय रोग का खतरा: अध्ययन

कोविड -19 की बीमारी से ठीक होने के लंबे समय के बाद ऑर्गन में खराबी जैसे परिणाम सामने आ रहे हैं लेकिन इस पर विस्तृत अध्ययन की जरूरत है

दूध के साथ एंटीबायोटिक पीता है इंडिया?

सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट ने अपने अध्ययन में पाया है कि जब कोई डेरी किसान अपने मवेशियों को एंटीबायोटिक देता है तो प्रबल आशंका होती है कि वह दूध के माध्यम से मनुष्यों के शरीर में पहुंच जाए