Sign up for our weekly newsletter

News Updates
Popular Articles
Videos
  • New education policy to shrink India’s school system: GN Devy

  • Field Report: Farmers protest against unjust agri Bills passed by Parliament

अंग्रेजों की नीति पर चलने से तबाह हुए तालाब

आंध्र प्रदेश में कभी तालाबों से सिंचाई होती थी लेकिन सरकारी उपेक्षा और बड़ी परियोजनाओं ने इन्हें बदहाल कर दिया

पानी ही नहीं, जीवन की सीख भी देती थी बावड़ियां

गुजरात और राजस्थान की बावड़ियों का अस्तित्व अब भी बचा हुआ है लेकिन उपेक्षा व भूजल का स्तर कम होने से ये सूख गई हैं

अंग्रेजों ने बर्बाद कर दी तालाबों के रखरखाव की व्यवस्था

कुडिमरमथ एक ऐसी व्यवस्था थी जिसमें तालाबों के रखरखाव के लिए श्रमदान किया जाता था, लेकिन अंग्रेजों की नीतियों ने यह व्यवस्था बर्बाद कर दी

अरावली की पहाड़ियों से बारिश के पानी को रोकने के लिए 17 गांवों में तैयार हो रहे नाडे

मनरेगा राजस्थान में अरावली से जुड़े पारंपरिक जल स्त्रोतों को फिर से पुनजीर्वित किया जा रहा है

पहाड़ी जल स्रोतों को बचाना जरूरी, 2050 तक 150 करोड़ लोग होंगे निर्भर

1960 में तराई में रहने वाली करीब 7 फीसदी आबादी इन जल स्रोतों पर निर्भर थी जो 2050 तक बढ़कर 24 फीसदी पर पहुंच जाएगी

खत्म हो रही है एक पारंपरिक सिंचाई प्रणाली, कौन है जिम्मेवार

महाराष्ट्र में खेतों तक पानी पहुंचाने वाली यह पारंपरिक व्यवस्था गन्ने की खेती और सरकारी उपेक्षा की कीमत चुका रही है

जूड़शीतल: चूल्हों को अवकाश, तालाबों-कुओं की सफाई वाला मिथिला का अनूठा पर्व

मेष संक्रांति और उससे अगले दिन मनाए जाने वाले इस त्यौहार में जलस्त्रोतों और प्रकृति को बचाने के प्रति लोगों की ललक देखने को मिलती है

जल की अग्निपरीक्षा

स्थानीय समुदाय को जल संरचनाओं का स्वामित्व देना, लोकतंत्र को मजबूत करना और शक्तियों का हस्तांतरण। इससे जल का कुप्रबंधन रोका जा सकता है