Sign up for our weekly newsletter

News Updates
Popular Articles
Videos
  • COVID-19 causes dip in electric vehicle sales, but long-term outlook intact: Report

  • Inside slum lanes, a Delhi group helps quell hunger

ग्रामीण अर्थव्यवस्था

क्या मजदूरों के खाते में पहुंच गए 1,000 से 6,000 रुपए?

केंद्र सरकार ने दावा किया है कि 2 करोड़ से अधिक निर्माण मजदूरों को 1,000 से लेकर 6,000 रुपए प्रति मजदूर आर्थिक सहायता दी चुकी है

ग्रामीण अर्थव्यवस्था

मजदूर दिवस: क्यों शासन पर भरोसा नहीं कर पाए प्रवासी मजदूर

मजदूरों को भ्रम में रखने के लिए कानून तो बनाए गए, लेकिन उनकी पालना नहीं की गई

ग्रामीण अर्थव्यवस्था

लॉकडाउन ग्रामीण अर्थव्यवस्था: खेतों में खड़ी फसल नहीं काट पा रहे किसान

बिहार में इस साल 21,21,000 हेक्टेयर में गेहूं की बुआई हुई है। वहीं, मक्के की खेती 4,90,000 हेक्टेयर में की गई है

ग्रामीण अर्थव्यवस्था

लॉकडाउन ग्रामीण अर्थव्यवस्था: हाट बंद होने से छत्तीसगढ़ के आदिवासी परेशान

छत्तीसगढ़ का धमतरी जिला न केवल भारत, बल्कि एशिया में लाख के बाजार के लिए मशहूर है। लेकिन...

ग्रामीण अर्थव्यवस्था

कोरोनावायरस के खौफ चक्र में फंसा किसान

 कोरोनावायरस की वजह से किसानों की आमदनी पर सीधा-सीधा प्रभाव दिखने लगा है

भूखे बच्चों के लिए जिंदगी में पहली बार हाथ फैलाया

राजस्थान के सवाई माधोपुर से मध्यप्रदेश की शिवपुरी लौटी सुमित्रा और उसके परिवार की कहानी

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना: कहां हुई चूक?

40 करोड़ युवाओं के कौशल में विकास का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की शुरुआत हुई थी, लेकिन...

कितना मुश्किल है गुजरात से लौट रहे प्रवासियों को श्रमिक ट्रेन तक पहुंचना

गुजरात के सूरत और अहमदाबाद में फंसे प्रवासियों ने बताया कि उन्हें श्रमिक ट्रेनों तक पहुंचने के लिए क्या-क्या करना पड़ रहा है

पथ का साथी: लौटते प्रवासियों की दिक्कतें कम करने में जुटे ग्रामीण

डाउन टू अर्थ हिंदी के रिपोर्टर विवेक मिश्रा 16 मई 2020 से प्रवासी मजदूरों के साथ ही पैदल चल रहे हैं। पढ़ें, उनके साथ बीते तीसरे दिन का हाल-

97 फीसदी रेहड़ी-पटरी, फेरीवालों ने माना, लॉकडाउन ने तोड़ दी है उनकी कमर

आइये जानते हैं कैसा है दिल्ली में पटरी पर सामान बेचने वालों का हाल| लॉकडाउन में 54 फीसदी महिला दुकानदारों ने लिया है कर्ज, 37.1 फीसदी के लिए मुश्किल है उसको चुका पाना

सोम बाजार, लॉकडाउन और ट्विटर पर बनती पॉलिसी

हम लोग अपने ट्विटर और अपनी इंस्टाग्राम में इस कदर खोये हुए थे कि हम में से कुछ को यह समझ ही नहीं आया कि वे घरों की और क्यों लौट रहे हैं?

95 फीसदी प्रवासी अपने गांव-घर लौटना चाहते हैं: सर्वे

विभिन्न प्रदेशों में फंसे हुए 31,423 प्रवासियों से बातचीत के बाद एकता परिषद ने एक सर्वेक्षण रिपोर्ट तैयार की है