Sign up for our weekly newsletter

News Updates
Popular Articles
Videos
  • Sound of silence: How COVID-19 lockdowns help scientists

  • Cheruvayal Raman’s paddy project: 20 years, 54 varieties, 1 national award

जैव विविधता

कोरोना महामारी: प्रकृति को फिर से खुशहाल और समृद्ध करने का समय

कोरोनावायरस ने वैश्विक अर्थव्यवस्था और समाज को हिला दिया है। प्रकृति रीसेट बटन दबा रही है। वैश्विक अर्थव्यवस्थाएं भारी गिरावट की स्थिति में हैं

वन्य जीव

कोरोना संक्रमण:  चिड़ियाघरों में जानवरों को खाना-पानी पहुंचाने का आदेश

लॉक डाउन की वजह से चिड़ियाघरों में मौजूद पालतू जंतुओं को भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है

वन

मैदानी राज्यों में ज्यादा लगती है जंगल की आग

आग लगने के पैटर्न एवं उसके प्रभाव की विस्तृत जानकारी हो तो इस नुकसान को कम किया जा सकता है।

जैव विविधता

दुर्लभ चमगादड़ों की संख्या में तेजी से गिरावट

एक अध्ययन से पता चला है कि दक्षिण-पूर्व एशिया में स्थित देश इंडोनेशिया और फिलीपींस में दुर्लभ प्रजाति के फ्लाइंग फॉक्सेस चमगादड़ों की आबादी ...

जैव विविधता

अगले 20 सालों में लुप्त हो जाएंगे 90 फीसदी कोरल रीफ्स

यदि ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन पर रोक नहीं लगायी गयी, तो सदी के अंत तक पूरी तरह विलुप्त हो जाएंगी यह खूबसूरत प्रवाल भित्तियां

बड़े वानरों के लिए खतरा बना कोरोनावायरस: विशेषज्ञ

विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि कोरोनावायरस से दुनिया भर में लोगों के स्वास्थ्य के साथ-साथ बड़े वानरों को भी खतरा है। इनमें चिंपांजी, बोनोबोस, गोरिल्ला और वनमानुष शामिल हैं

विश्व गौरैया दिवस: बचाने के हर संभव प्रयास जरूरी

हमारी आधुनिक जीवन शैली गौरैया के रहने के लिए बाधा बन गई है

कैग ने पकड़ी राजस्थान के वन एवं पर्यावरण विभाग की खामियां

वन्यजीव एवं पर्यावरण संबंधी अपराधों में राजस्थान का नंबर दूसरा है, बावजूद इसके सरकार गंभीर नहीं है

उत्तर बंगाल में क्यों बढ़ रही है गिद्धों की संख्या?

उत्तर बंगाल में गिद्दों की ंसंख्या बढ़ती जा रही है, जिसकी वजह बड़ी रोचक है

दुर्लभ वन्यजीवों का पता लगाना हुआ आसान, वैज्ञानिकों ने विकसित किया ईडीएनए

पारिस्थितिकीविदों ने स्तनधारियों के पूरे समुदाय की पहचान करने की एक नई विधि ईजाद की है, जिसमें नदियों, पानी के स्रोत से उनका डीएनए एकत्र किए जा सकते हैं

प्रकृति के साथ गहराई से जुड़े हैं पहाड़ के लोकगीत

उत्तराखंड में 14 मार्च से शुरू हो जाता है फूलदेई, जिसमें दिखती है प्रकृति के प्रति प्रेम