News Updates
Popular Articles
Videos
  • Anil Agarwal Dialogue 2024: Welcome Note

  • Is legal assurance of MSP for farmers viable? What are its implications?

पेड़ों की अंधाधुंध कटाई पर लगाम लगाने से कम हो सकता है बाढ़ का खतरा

भारी संख्या में पेड़ों को काटा जाना अधिक गंभीर, बार-बार आने वाली बाढ़ का कारण बनती है और ऐसी बाढ़ के गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

बाढ़ के पूर्वानुमान में सुधार से भारतीय उपमहाद्वीप में रहने वाले लाखों की बच सकती है जान: शोध

शुष्क हवाओं की घुसपैठों के बाद शुष्क मौसम नहीं आया, बल्कि बारिश में वृद्धि हुई, औसतन 17 प्रतिशत और कुछ मामलों में, 100 प्रतिशत से अधिक बारिश देखी गई।

तमिलनाडु के दक्षिण में तिरुनेलवेली में भारी बारिश के कारण आई बाढ़

17 दिसंबर को इतनी बारिश हुई कि प्रशासन को अब स्थानीय जलाशयों से और अधिक पानी छोड़ने पर विचार करना पड़ रहा है

उत्तराखंड में भारी बीतता है मॉनसून, चार साल में आई 183 आपदाएं

एक अध्ययन में कहा गया है कि 2020 से 2023 तक की अवधि में उत्तराखंड में जल संबंधी आपदाओं में 213 लोग मारे गए

नए मॉडल से बाढ़ के खतरों का होगा सटीक मूल्यांकन, इससे निपटने में मिलेगी मदद

शहरी विकास किस तरह हो रहा है, यह बदलाव के पैटर्न से जुड़ा हुआ है, जलवायु परिवर्तन के कारण शहरों में बाढ़ के खतरों में वृद्धि हो रही है

भारतीय नदी घाटियों में तेज वर्षा के पैटर्न में वृद्धि से शहरों में बढ़ेगा बाढ़ का सिलसिला: अध्ययन

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के महामना सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन क्लाइमेट चेंज की रिसर्च रिपोर्ट में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं

हिमालय पर संकट: आपदाओं पर अंकुश के लिए पारंपरिक ज्ञान और स्थानीय समुदायों की भागीदारी जरूरी

हिमालयी राज्यों में बढ़ती आपदाओं के मद्देनजर हिमधरा पर्यावरण समूह ने ‘हिमालय में आपदा-निर्माण’ नामक रिपोर्ट जारी की

जलवायु परिवर्तन से बढ़ा ग्लेशियल झीलों के टूटने का खतरा, बढ़ सकती हैं सिक्किम जैसी आपदाएं

डाउन टू अर्थ ने सिक्किम में आई बाढ़ के कारणों को समझने के लिए देहरादून स्थित वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान के निदेशक डॉ कलाचंद सैन से बातचीत की