ओडिशा पर मंडराया जवाद नाम के चक्रवात का खतरा

10 अक्टूबर को बनने वाले कम दबाव के चलते ओडिशा के अधिकतर इलाकों में भारी बारिश हो सकती है

By Dayanidhi

On: Friday 08 October 2021
 
ओडिशा पर मंडराया जवाद नाम के चक्रवात का खतरा

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक 10 अक्टूबर के आसपास उत्तरी अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने के आसार हैं। इसके अगले 4 से 5 दिनों के दौरान पश्चिम, उत्तर-पश्चिम की ओर दक्षिण ओडिशा और उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश तटों की ओर बढ़ने का अनुमान है। हाल ही में आए चक्रवात 'गुलाब' और 'शाहीन' के प्रकोप से अभी उबर भी नहीं पाए थे कि एक और चक्रवात का खतरा इस समय देश पर मंडरा रहा है। इस  चक्रवात का नाम 'जवाद' होने की जानकारी है।

विभिन्न मॉडलों और स्थानीय मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, एक और कम दबाव का क्षेत्र 12 अक्टूबर के आसपास बनेगा और उसके बाद दोनों प्रणालियों के आपस में मिल जाने से 14 अक्टूबर के आसपास एक बहुत ही भयंकर चक्रवाती तूफान में बदलने के आसार हैं।

वर्तमान अनुमान के अनुसार, यदि चक्रवात अपना रुख अख्तियार कर लेता है, तो यह दक्षिण ओडिशा और उत्तर आंध्र प्रदेश के बीच 15 या 16 अक्टूबर को टकरा सकता है।

चक्रवात में हवा की गति के लगभग 130 से 140 किमी प्रति घंटे होने के आसार हैं। इसके प्रभाव के चलते गंजम, गजपति, कोरापुट, मलकानगिरी, रायगडा, नयागढ़ और कंडमाल जिलों को तेज हवा और भारी बारिश का सामना करना पड़ेगा।

मौसम विभाग ने बताया कि अंडमान सागर के ऊपर बिखरे हुए निम्न और मध्यम बादल बहुत तीव्र संवहन अर्थात बादलों का तापमान ठंडा पड़ रहा है। बादल बंगाल के पूर्व-मध्य और दक्षिण खाड़ी पर फैले हुए हैं। वहीं पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर बादल बिखरे हुए हैं यहां भी बादल का तापमान ठंडा पड़ रहा है। बादल दक्षिण अरब सागर से दूर महाराष्ट्र तट पर फैले हुए हैं। कम दबाव के चलते अगले 5 दिनों के दौरान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है।

मौसम विभाग के अनुसार 10 अक्टूबर को बनने वाले कम दबाव के चलते ओडिशा के अधिकतर इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। यहां यह भी बताते चलें कि ओडिशा के लिए अक्टूबर चक्रवाती महीने के रूप में जाना जाता है और इसलिए यहां जोखिम बरकरार है। अभी  तक ओडिशा के तट से अधिकतर बड़े चक्रवात अक्टूबर के महीने में ही टकराए हैं।

चक्रवाती गतिविधियों को देखते हुए मौसम विभाग ने 9 अक्टूबर सुबह तक येलो अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं मौसम विभाग ने कहा है कि ओडिशा के जिलों - सुंदगढ़, बारगढ़, झारसुगुडा संबलपुर, देवगढ़, अंगुल, मयूरभंज, कयोनझर और बालासोर, मलकानगिरी, कोरापुट, नवरंगपुर, रायागढ, कालाहांडी, कंधमाल, गजपति और गंजम इन जिलों में भारी बारिश होने के आसार हैं।