Sign up for our weekly newsletter

आस्ट्रेलिया में हो रही हैं आग लगने की सबसे अधिक घटनाएं

2015 के बाद 2019 में हुई आग लगने की सबसे अधिक घटनाएं, अफ्रीका भी है आग की चपेट में

By DTE Staff

On: Friday 03 January 2020
 
Photo: Wikimedia commons
Photo: Wikimedia commons Photo: Wikimedia commons

रियल टाइम ग्लोबल फायर मॉनिटरिंग वेबसाइट के अनुसार दुनिया भर में सबसे अधिक आग लगने की घटनाएं आस्ट्रेलिया (33 फीसदी) हुई हैं। आस्ट्रेलिया इन दिनों दुनिया भर के समाचारों की सुर्खियों में अपनी जगह बनाए हुए हैं, क्योंकि आस्ट्रेलिया का लगभग एक चौथाई हिस्सा आग की चपेट में है।

पिछले सितंबर से शुरू होने वाले इस अग्नि मौसम के दौरान तीसरी बार न्यू साउथ वेल्स राज्य ने आपातकाल घोषित किया है। यह राज्य सबसे बुरी तरह प्रभावित है; आस्ट्रेलिया की राजधानी सिडनी इस राज्य में है।

1 दिसंबर, 2019 और 2 जनवरी, 2020 के बीच, 15 लाख से अधिक आग की घटनाएं घटी हैं। अकेले आस्ट्रेलिया में आग लगने के 5 लाख से अधिक अलर्ट हैं। नए साल के पहले दो दिनों में, ऑस्ट्रेलिया में 3,695 आग लगने की सूचनाएं दी गईं। वैश्विक स्तर पर यह आंकड़ा 13,938 है। ये आंकड़े नासा द्वारा जारी किए जाते हैं।

1 दिसंबर, 2019 और 2 जनवरी, 2020 के बीच आस्ट्रेलिया में सबसे अधिक आग की घटनाएं हुई। यहां आग लगने की लगभग 5.21 लाख सूचनाएं दर्ज की गई। आस्ट्रेलिया दुनिया के उन 10 देशों में सबसे ऊपर रहा, जहां सबसे अधिक आग लगने की घटनाएं हुई। बाकी नौ देश अफ्रीका में हैं, जो अक्सर व्यापक रूप से रिपोर्ट नहीं किए जाते हैं।

ऑस्ट्रेलिया के बाद मध्य अफ्रीकी गणराज्य में 2, 47,000 आग की सूचनाएं दर्ज की गई। तीसरे स्थान पर 2, 32,000 अलर्ट के साथ दक्षिण सूडान है। अन्य शीर्ष 10 देशों में घाना, नाइजीरिया, चाड, गिनी, कैमरून और सूडान है। इस सूची में शामिल होने वाला अमेरिका से ब्राजील एकमात्र देश है।

2019 से पहले दुनिया भर में जंगल की आग लगने और फैलने की घटनाएं नहीं देखी। अंतरराष्ट्रीय गैर-लाभकारी संस्था ग्रीनपीस ने एक हालिया बयान में कहा: "पृथ्वी पर सबसे ठंडे स्थानों में से एक साइबेरिया में इस साल आग लगी है। अमेज़ॅन पृथ्वी पर सबसे नमी भर वाला क्षेत्र है, लेकिन यहां भी इस बार भयंकर आग लगी। जिसका असर पूरे ग्रह भर में देखा गया। इसलिए हमें इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए तेजी से काम करने की आवश्यकता है।”

विश्व स्तर पर, 2015 के बाद से 2019 में सबसे अधिक आग लगने की चेतावनी जारी की गई। 2019 में 45 लाख आग लगने की घटनाओं का अलर्ट जारी हुआ, जबकि 2015 में यह आंकड़ा 47 लाख था। वेबसाइट फॉरेस्ट फायर वॉच के आंकड़ों के अनुसार, 2001 के बाद से आग की सूचनाओं की संख्या में काफी वृद्धि हुई है। 2001 में यह आंकड़ा 17 लाख था, जो अब 50 लाख के आसपास हो गया है।