Sign up for our weekly newsletter

कोरोना संक्रमण:  चिड़ियाघरों में जानवरों को खाना-पानी पहुंचाने का आदेश

लॉक डाउन की वजह से चिड़ियाघरों में मौजूद पालतू जंतुओं को भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है

By Vivek Mishra

On: Wednesday 25 March 2020
 
फोटो: विकास चौधरी
फोटो: विकास चौधरी फोटो: विकास चौधरी

कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव के लिए देशभर में लॉक डाउन और धारा 144 के तहत कर्फ्यू  की स्थिति है। ऐसे में सिर्फ आम लोगों  को ही नहीं बल्कि चिड़ियाघरों में मौजूद पालतू जंतुओं को भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। बंदी के चलते ज्यादातर बुनियादी सुविधाओं के सामान उन तक नहीं पहुंच रहे हैं। इसे देखते हुए देश के सभी राज्यों और संघ शासित प्रदेशों को आदेश दिया गया है कि जरूरी सेवाओं के तहत चिड़ियाघर के पालतू जीवों के खाने-पीने व स्वास्थ्य की देखभाल का इंतजाम सुनिश्चित किया जाए।

यह आदेश डॉक्टर सदस्य सचिव एसपी यादव की ओर से  23 मार्च, 2019 को केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के अधीन केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने देश के सभी राज्यों के मुख्य सचिव को दिया है। आदेश में कहा गया है कि सभी राज्यों को मुख्य वन्यजीव संरक्षक व चिड़ियाघर के इंचार्ज पालतू जीवों को पेयजल, खाना और स्वास्थ्य देखभाल की सभी चीजें जीवों तक पहुंचाना  सुनिश्चित करें। बुनियादी सुविधाओं के लिए चिड़ियाघरों को कफर्यू से बाहर रखा जाए।

जारी आदेश की प्रति में कहा गया है कि चिड़ियाघर के जीव कर्फ्यू या लॉक डाउन के चलते काफी मुसीबतों का सामना कर रहे हैं। ऐसे में उनकी न सिर्फ सेहत की देखभाल की जाए बल्कि बुनियादी जरूरतों की चीजें भी समय-समय पर पहुंचाई जाएं।

केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने 2017-18 में देशभर के चिड़ियाघरों का वर्गीकरण किया था। इसके अलावा प्राधिकरण की 2018 रिपोर्ट के मुताबिक देश में कुल 160 चिड़ियाघर को मान्यता मिली हुई है। वहीं, बीते वर्ष 40 चिड़ियाघरों को मानकों के उल्लंघन पर कारण बताओ नोटिस भी दिया गया था।

इस वक्त देश के कुल 160 चिड़ियाघरों में 17 बड़े चिड़ियाघर, 25 मध्यम स्तरीय, 35  लघु और 83 अत्यंत छोटे चिड़ियाघर हैं। इनमें 16 रेस्क्यू सेंटर भी शामिल हैं।