Sign up for our weekly newsletter

अच्छे फूलों वाली जगहों को याद रखते हैं बड़े भौंरे

एक नए अध्ययन में कहा गया है कि भौंरा हमेशा किसी खास फूल पर ही बैठता हैं

By Dayanidhi

On: Tuesday 29 December 2020
 
छोटी मधुमक्खियों की अपेक्षा बड़े भौंरे सब से अच्छे फूलों वाली जगहों को याद रखते हैं

नए शोध से पता चला है कि बड़े भौंरे अच्छे फूलों वाली जगहों को याद रखने में समय लगाते हैं। छोटे भौंरे जिनकी उड़ने की सीमा और क्षमता कम होती है वे सबसे अच्छे पराग वाले फूलों पर विशेष ध्यान नहीं देते हैं। एक्सेटर विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने 'सीखने की उड़ान' संबंधी जांच की, जो ज्यादातर मधुमक्खियां फूलों पर से उड़ने के बाद करती हैं।

सीखने की उड़ान : मधुमक्खी, भौंरे और ततैया अपने छत्ते या एक खाद्यस्थल को छोड़ने के दौरान व्यवस्थित उड़ान का अभ्यास करते हैं, जिसके दौरान वे लक्ष्य स्थान जिसके बारे में वे पहले से जानते हैं उसको याद करते हैं। एक "सीखने की उड़ान" में कीट के लक्ष्य की एक श्रृंखला होती हैं।

मधुमक्खियों को ऐसी उड़ानें भरने के लिए जाना जाता है और अध्ययन से पता चलता है कि भौंरे भी ऐसा करते हैं, एक फूल के स्थान को याद करने के लिए वे बार-बार पीछे देखते हैं।

एसेटर सेंटर फॉर रिसर्च इन एनिमल बिहेवियर के एसोसिएट प्रोफेसर नेटली हेम्पेल डे इबारा ने कहा इस बारे में पूरी जानकारी नहीं है कि परागण करने वाले कीट हर फूल के बारे में सीखते हैं और अपने आपको विकसित करते हैं, लेकिन वास्तव में भौंरा किसी खास फूल पर ही बैठता हैं।

एक फूल पर बैठ कर उससे उड़ते समय, वे सक्रिय रूप से यह तय कर सकते हैं कि इसके स्थान को याद रखने में कितना प्रयास करना है। हमारे अध्ययन की आश्चर्यजनक खोज यह है कि एक मधुमक्खी का आकार इस निर्णय को लेने और सीखने के व्यवहार को निर्धारित करता है। यह अध्ययन करंट बायोलॉजी नामक पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

अध्ययन में पाले गए मधुमक्खियों ने अलग-अलग सांद्रता वाले सुक्रोज (चीनी) के घोल वाले कृत्रिम फूलों पर बैठी। मधुमक्खी जितनी बड़ी होती है, सुक्रोज के घोल के आधार पर इसके सीखने का व्यवहार उतना ही भिन्न होता है।

छोटे मधुमक्खियों में कृत्रिम फूलों के स्थानों के बारे में सीखने के प्रयास एक समान थे, भले ही सुक्रोज की सांद्रता अधिक हो या कम। प्रोफेसर हेम्पेल डे इबारा ने कहा हमने जो अंतर पाया वह उनके कॉलोनी में मधुमक्खियों की विभिन्न भूमिकाओं को दर्शाता है।

बड़े भौंरे बड़े भार ले जा सकते हैं और छोटे की तुलना में छत्ते से आगे की खोज कर सकते हैं। एक छोटी उड़ान भरने वाले और कम वजन  क्षमता वाली छोटी मधुमक्खियां चयनात्मक नहीं हो सकती हैं, इसलिए वे फूलों की अधिक संख्या को स्वीकार करती हैं। ये छोटी मधुमक्खियां छत्ते के अंदर के कार्यों में अधिक शामिल होती हैं, केवल तभी बाहर निकलती हैं जब कॉलोनी में भोजन की आपूर्ति कम हो रही हो।